Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय मुकलावा में प्रवेश लेने का सुनहरा अवसर - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Monday, 7 September 2020

राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय मुकलावा में प्रवेश लेने का सुनहरा अवसर

100 प्रतिशत परिणाम, छात्रावास की सुविधा

जिले का सबसे पुराना कृषि विधालय
शिक्षक प्रशिक्षण केन्द्र भी जिले में पहला होने का गौरव
श्रीगंगानगर, 7 सितंबर। राजकीय उच्च माध्यमिक विधालय मुकलावा में कृषि विज्ञान, नाॅनमेडिकल, वाणिज्य व कला संकाय संचालित है। यह विधालय रायसिंहनगर ब्लाॅक के हृदय स्थल पर स्थित है। प्रत्येक विषय का व्याख्याता, वरिष्ठ अध्यापक यहां पदस्थापित है। गणित, जीवविज्ञान पद पर भी इस वर्ष व्याख्याता ने कार्य ग्रहण कर लिया है। बाहर के विधार्थियों के लिये समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित छात्रावास  की सुविधा भी उपलब्ध है। इस विधालय का बोर्ड परीक्षा परिणाम 100 प्रतिशत रहा है। प्रधानाचार्य श्रीमती किरण छाबड़ा के अनुसार विधालय का वातावरण शिक्षण हेतु अतिउतम है। विद्वान स्टाॅफ, हवादार कमरे, खेल का मैदान, प्रयोगशालाएं, कम्प्यूटर लैब, झूले, पार्क इत्यादि विधालय में चार चांद लगाते है। अतः अभिभावकगण अपने बच्चों के उज्ज्वल भविष्य के लिये विधालय में बच्चों को शीघ्रता से प्रवेश दिलाये। 
उल्लेखनीय है कि राजकीय उच्च माध्यमिक विधालय मुकलावा में जिले की प्रथम कृषि विधालय होने का गौरव है, वही पर विधालय में सबसे पहला एसटीसी स्कूल शिक्षण प्रशिक्षण हुआ करती थी, विधालय के छात्र 11वी पास कर शिक्षक का प्रशिक्षण लेते थे, बाहरी छात्र भी आते थे। कई वर्षों तक एसटीसी के कई बैच निकले, फिर धीरे-धीरे किन्ही कारणों से एसटीसी अन्यत्र स्थापित कर दी गई। राजकीय उच्च माध्यमिक विधालय मुकलावा में प्रारम्भ से पढ़ाई का अनुकूल वातावरण रहा है। ग्रामीण क्षेत्र के आसपास के कई गांवो में युवाओं ने इसी विधालय से शिक्षा ग्रहण कर अपने भविष्य को संवारा है। वर्तमान में भी स्वच्छता व शिक्षा का उत्कृष्ट वातावरण है। शिक्षा प्राप्त कर युवा अपना भविष्य उज्ज्वल बना सकते है। 

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे