Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India ढ़ाई वर्ष बाद मिनी सचिवालय का काम दोबार शुरू जिला कलक्टर ने लिया महत्वपूर्ण निर्णय - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Thursday, 19 November 2020

ढ़ाई वर्ष बाद मिनी सचिवालय का काम दोबार शुरू जिला कलक्टर ने लिया महत्वपूर्ण निर्णय

 


श्रीगंगानगर, । श्रीगंगानगर में मिनी सचिवालय का निर्माण कार्य ढ़ाई वर्ष बाद दोबारा शुरू किया जायेगा।
जिला कलक्टर श्री महावीर प्रसाद वर्मा ने महत्वपूर्ण निर्णय लेते हुए इस कार्य को दोबारा प्रारम्भ करने की घोषणा गुरूवार को जिला कलेक्ट्रेट सभागार में बैठक के दौरान की।
इस मिनी सचिवालय में जिला कलक्टर, पुलिस अधीक्षक, एडीएम प्रशासन, एडीएम सर्तकता, एसडीएम, समाज कल्याण, जल संसाधन, पेयजल, अनुसूचित जाति, जनजाति, कृषि, उद्यान, सांख्यिकी, रोजगार, श्रम, ग्रामीण विकास सहित विभिन्न विभागों के कार्यालय संचालित होंगे।
जिला कलक्टर श्री महावीर प्रसाद वर्मा पूर्व में कई महत्वपूर्ण पदों पर कार्य कर चुके है। यह उनकी दूरदर्शिता ही है, जो श्रीगंगानगर जिले को हर दृष्टि से राजस्थान प्रदेश में अव्वल बनाने के लिये प्रयासरत है। जिला कलक्टर के प्रयासों से आगामी वर्षों में श्रीगंगानगर जिले में विकास कार्य किये जाकर इसे पर्यटन की दृष्टि से भी विकसित किया जायेगा। इसी कड़ी में मिनी सचिवालय के रूके हुए कार्य पूर्ण करवाने का जिम्मा जिला कलक्टर श्री वर्मा ने लिया है।
उन्होंने बताया कि यूआईटी द्वारा 15 दिन की एनआईटी जारी की जायेगी, जिसमें 21 प्लाॅट जो (36 बीघा) के है, की बिक्री की जायेगी, बाद में बचे हुए प्लाॅट्स के टुकड़े कर इन्हें बेचा जायेगा। इसकी बिक्री का 90 प्रतिशत हिस्सा वित्त विभाग को जमा होगा, जिसे बाद में आरएसआरडीसी को ट्रांसफर कर दिया जायेगा तथा 10 प्रतिशत भाग यूआईटी को जायेगा। मिनी सचिवालय बनने के बाद कई महत्वपूर्ण विभाग इसमें शिफ्ट हो जायेंगे।
जिला कलक्टर श्री वर्मा ने गुरूवार दोपहर को निर्माणाधीन स्थल मिनी सचिवालय का दौरा किया एवं उसके आसपास के सभी क्षेत्र को स्वयं देखकर नक्शें द्वारा इस प्रोजेक्ट को समझकर आवश्यक दिशा निर्देश दिये। उन्होंने वहां से निकलने वाली सड़कों को तुरन्त बनाये जाने का निर्देश दिया ताकि मिनी सचिवालय तक पहुंचने का रास्ता सुगम हो। इस क्षेत्रा को पूर्णतया विकसित करने से ना सिर्फ वहां पहुंचना सरल होगा बल्कि देखने में भी यह क्षेत्र खूबसूरत लगेगा। श्रीगंगानगर के विकास के लिये यह प्रोजेक्ट अति महत्वपूर्ण है।
इस दौरान एडीएम प्रशासन डाॅ. गुंजन सोनी, एडीएम सर्तकता श्री अरविन्द जाखड़, यूआईटी सचिव डाॅ. हरितिमा, आबकारी अधिकारी प्रतिष्ठा पिलानिया, आरएसआरडीसी के  अधिकारी एवं अन्य महत्वपूर्ण अधिकारी उपस्थित रहे। 

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे