Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India धूम्रपान में भयंकर जोखिम निहित होता है, जिसका अनुभव तत्काल नहीं वर्षों बाद होता है: जिला कलक्टर - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Monday, 14 December 2020

धूम्रपान में भयंकर जोखिम निहित होता है, जिसका अनुभव तत्काल नहीं वर्षों बाद होता है: जिला कलक्टर

तम्बाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ की पुस्तक का विमोचन

हनुमानगढ़। नशा मुक्त भारत अभियान एवं निरोगी राजस्थान कार्यक्रम के तहत जिला तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ हनुमानगढ़ द्वारा तंबाकू मुक्त हनुमानगढ़ की अभिनव पहल के तहत पुस्तक का विमोचन कार्यक्रम किया गया। पुस्तक विमोचन कार्यक्रम में जिला कलक्टर जाकिर हुसैन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक जस्साराम बोस, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. अरुण कुमार, प्रमुख चिकित्सा अधिकारी डॉ. एम.पी. शर्मा, ड्रग इंस्पेक्टर अमनदीप कौर, जिला कार्यक्रम अधिकारी द्वितीय तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ नीपेन शर्मा एवं डीईओ तंबाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ त्रिलोकेश्वर शर्मा उपस्थित थे।
जिला कलक्टर जाकिर हुसैन ने बताया कि तम्बाकू नियंत्रण प्रकोष्ठ द्वारा जनमानस को तम्बाकू के बारे में नियमित जानकारी दी जा रही है। ऐसे में विभाग द्वारा प्रकाशित यह पुस्तक मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने कहा कि पुस्तक की जानकारी से अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचे, ताकि वे तम्बाकू के हानिकारक प्रभावों के बारे में जान सके। उन्होंने बताया कि प्रत्येक प्रकार के धूम्रपान में भयंकर जोखिम निहित होता है, जिसका अनुभव हमें तत्काल नहीं अपितु वर्षों बाद होता है।
सीएमएचओ डॉ. अरूण कुमार ने जानकारी देते हुए बताया कि पुस्तक के अंदर कोटपा अधिनियम धारा 4, 5, 6, 7 एवं चिकित्सा विभाग पुलिस विभाग तथा अन्य विभागों द्वारा किए जा रहे जन जागरूकता कार्यक्रमों की झलकियां तथा राजस्थान सरकार एवं जिला प्रशासन द्वारा समय-समय पर की गई कार्यवाही एवं आदेशों की प्रतियां है। उन्होंने बताया कि पुस्तक का मुख्य उद्देेश्य तंबाकू से होने वाले दुष्परिणाम हानियां तथा मृत्यु की जानकारी प्रदान करना है। इसके अलावा कोटपा अधिनियम के मुख्य प्रावधानों के बारे में जानकारी देना है।
नीपेन शर्मा ने बताया कि पुस्तक का वितरण खंड स्तर पर तंबाकू व्यसन एवं कोटपा अधिनियम के तहत दी जाने वाली अधिकारियों एवं कर्मचारियों के प्रशिक्षण कार्यक्रम में किया जाएगा। प्रशिक्षण कार्यक्रम में जिले के समस्त उपखंड अधिकारी, तहसीलदार, पंचायती राज विभाग, महिला एवं बाल विकास विभाग, चिकित्सा विभाग एवं वर्टिकल कार्यक्रम के कर्मचारी शामिल होंगे। 

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे