Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India मंत्रालिक कार्मिक शिक्षा विभाग की मुख्य कड़ी-भाटी - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Wednesday, 16 December 2020

मंत्रालिक कार्मिक शिक्षा विभाग की मुख्य कड़ी-भाटी

शिक्षा विभागीय राज्य स्तरीय मंत्रालयिक एवं सहायक कर्मचारी सम्मान समारोह हुआ आयोजित

बीकानेर,। उच्च शिक्षा मंत्री भंवर सिंह भाटी ने कहा कि मंत्रालयिक कार्मिक और सहायक कर्मचारी शिक्षा विभाग की मुख्य कड़ी है। इनके द्वारा किए गए उत्कृष्ट कार्यों का सम्मान अपने आप में सराहनीय है।

भाटी बुधवार को वेटरनरी ऑडिटोरियम में आयोजित 28 वां शिक्षा विभागीय राज्य स्तरीय मंत्रालयिक एवं सहायक कर्मचारी सम्मान समारोह में मुख्य अतिथि के रूप बोल रहे थे। उन्होंने मंत्रालयिक कार्मिकों को नगद पुरस्कार देने की सराहना की और कहा कि राज्य सरकार कार्मिकों के हित में निर्णय लेकर, उनकी समस्याओं का समाधान कर रही है। उन्होंने कहा कि कर्मचारियों का सम्मान एक स्वस्थ परम्परा है जो कर्मचारियों को अथक परिश्रम,लगन और निष्ठा से कार्य करने की प्रेरणा देती है।

उच्च शिक्षा मंत्री ने कहा कि बीकानेर में शिक्षा निदेशालय होने से बीकानेर का मान बढ़ा है। उन्होंने शिक्षा के विकास में पूर्व महाराजों के योगदान पर प्रकाश डाला और कहा कि राज्य में शिक्षा के क्षेत्र में बीकानेर की अलग पहचान है। उन्होंने कहा कि राजस्थान की लगभग ग्राम पंचायत मुख्यालयों पर 12 वीं तक की स्कूले है। उन्होंने कहा कि 12 वीं कक्षा के बाद गांवों में उच्च शिक्षा के अवसर नहीं होने पर विशेषकर बालिकाएं उच्च शिक्षा से वंचित थी। ऐसे में मौजूदा सरकार ने तहसील मुख्यालय पर महाविद्यालय खोलकर उच्च शिक्षा को बढ़ावा दे रही है। उन्होंने कहा कि जिले में बज्जू, छत्तरगढ़ और देशनोक मंे राजकीय महाविद्यालय प्रारंभ कर, शिक्षा सत्र की शुरूआत की गई है।

भाटी ने कहा कि शिक्षा विभाग ने अंग्रेजी मीडियम के स्कूल शुरू कर,गरीब छात्र-छात्राओं को सौगात प्रदान की है। उन्होंने कहा कि शिक्षा मंत्री ने शिक्षक संगठनों व कर्मचारी संगठनों से संवाद कर,उनकी लम्बित समस्याओं का निराकरण करने के प्रयास किए है। उन्हांेने कोरोना काल में शिक्षा विभाग के कार्मिक व शिक्षकों की भूमिका की सराहना की और कहा कि इस दौरान शिक्षकों ने घर-घर सर्वे कर, इसे नियंत्रण करने में सहयोग प्रदान किया। शिक्षा विभाग के कार्मिक कोरोना काल मंे यौ़द्वा की भूमिका निभाई।

जिला कलक्टर नमित मेहता ने मंत्रालिक कर्मचारियों की सेवाओं की तारीफ की और कहा कि यह सम्मान केवल 40 कार्मिकों का सम्मान नहीं है,वरन समूचे शिक्षा विभाग का सम्मान है। ये 40 कार्मिक शिक्षा विभाग के सिस्टम का प्रतिनिधित्व करते है। उन्होंने कहा कि पुरस्कृत कार्मिकों से अन्य कार्मिक प्ररेणा लेकर, नए जोश और निष्ठा से विभाग की प्रगति के लिए कार्य करेंगे। उन्होंने कहा कि कोविड काल में शिक्षा विभाग ने प्रशासन का भी पूरा सहयोग प्रदान किया।

इससे पूर्व राज्य के 40 कर्मचारियों का अतिथियों ने 11000 रूपये नकद राशि देकर,श्रीफल, शॉल और साफा पहनाकर सम्मान किया। माध्यमिक शिक्षा निदेशक सौरभ स्वामी ने कहा मंत्रालयिक कर्मचारी शिक्षा विभाग का अहम हिस्सा है। उन्होंने कहा, कठोर परिश्रम, लगन और श्रेष्ठ कार्यों की बदौलत सम्मानित होने वाले यह कार्मिक हमारे ब्रांड एम्बेसडर के रूप में कार्य कर अन्य कर्मचारियों के लिए प्रेरणा का स्त्रोत बनेंगे। समारोह को  जिला प्रमुख मोडाराम ने भी संबोधित किया। अतिरिक्त निदेशक माध्यमिक शिक्षा रचना भाटिया, अतिरिक्त शिक्षा निदेशक प्रारंभिक शिक्षा अशोक संागवा, अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) ए.एच.गौरी अतिथि के रूप में उपस्थित थे। 

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे