Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India हनुमानगढ़ में वर्षों से बंद पड़े तेल डिपो पुनः बहाल किये जाएँ: सांसद निहाल चन्द - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Wednesday, 10 March 2021

हनुमानगढ़ में वर्षों से बंद पड़े तेल डिपो पुनः बहाल किये जाएँ: सांसद निहाल चन्द

श्रीगंगानगर,।  संसदीय क्षेत्र श्रीगंगानगर से लोकसभा सांसद श्री निहाल चन्द ने बुधवार को लोकसभा में शून्य काल के दौरान हनुमानगढ़ जिले में वर्ष 2010-11 से बंद पड़े तेल डिपो को जल्द से जल्द पुनः बहाल करने का मुद्दा जोर-शोर से उठाया।

सांसद ने सदन को बताया कि पूरे देश में सबसे महंगा पेट्रोल व डीजल राजस्थान और खासकर जिला श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ में बिकता है, यहाँ पेट्रोल का आंकड़ा 100 रूपए प्रति लीटर को भी पार कर गया है, जबकि पास के ही राज्यों जैसे पंजाब और हरियाणा में पेट्रोल व डीजल लगभग 10 से 12 रूपए प्रति लीटर तक सस्ता है। राजस्थान में पेट्रोल व डीजल की दरें अत्यधिक होने से यहाँ पेट्रोल व डीजल की अवैध तस्करी धड़ल्ले से हो रही है और यहाँ के पेट्रोल पंप बंद होने की कगार पर आ गए है।
साथ ही उन्होंने सदन को बताया कि श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ में तेल जोधपुर डिपो से आता है, जिसमें अत्यधिक दूरी के कारण अन्य शुल्क लगाया जाता है, इस कारण राजस्थान के अन्य जिलों से भी महंगा पेट्रोल व डीजल श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ में बिकता है, जिसकी सबसे ज्यादा मार क्षेत्र के आम आदमी और किसानों को झेलनी पड़ती है।
सांसद ने कहा कि यदि हनुमानगढ़ जिले में बंद पड़े तेल डिपो को पुनः बहाल किया जाता है, तो जोधपुर से तेल आने पर लगने वाले शुल्क को खत्म किया जा सकता है, जिससे श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ समेत अन्य जिलों को इसका लाभ होगा और प्रदेश में पेट्रोल व डीजल की एक समान दर तय करने में भी मदद मिलेगी। उन्होंने केंद्र सरकार से हनुमानगढ़ जिले में बंद पड़े तेल डिपो को पुनः बहाल करने या बठिंडा तेल डिपो से श्रीगंगानगर व हनुमानगढ़ जिलों को सप्लाई देने का आग्रह किया

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे