Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India कोविड-19 की स्थिति आने वाले समय में गंभीर हो सकती हैः मुख्यमंत्री - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Friday, 9 April 2021

कोविड-19 की स्थिति आने वाले समय में गंभीर हो सकती हैः मुख्यमंत्री

 कोविड-19 की स्थिति आने वाले समय में गंभीर हो सकती हैः मुख्यमंत्री

अंतरर्राज्जीय सीमा पर निगरानी बढ़ाई जायेः जिला कलक्टर
श्रीगंगानगर, 9 अप्रैल। मुख्यमंत्री श्री अशोक गहलोत ने कहा कि विश्व व्यापी महामारी कोविड-19 की दूसरी लहर की स्पीड ज्यादा है तथा आने वाला समय बहुत गंभीर है, ऐसे में समय रहते आमजन को जागरूक करना होगा। चिकित्सालयों में वेंटिलेटर, टेस्ट तथा अन्य तमाम तरह की सुविधाएं है, फिर भी ये लड़ाई जनता के सहयोग से ही लड़ी जायेगी। जनता के सहयोग से ही हम इस रोग से जीत सकते है। उन्होंने कहा कि समय रहते ध्यान नहीं दिया गया तो राज्य में कोरोना की स्थिति खतरनाक बन सकती है।
मुख्यमंत्री श्री गहलोत शुक्रवार को वीसी के माध्यम से राज्य के कलेक्टर्स तथा चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को निर्देशित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि वर्तमान स्थिति को देखते हुए राज्य में सख्ती करनी होगी। सख्ती के दौरान आमजन के साथ व्यवहार अच्छा होना चाहिए। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार पूरे वर्ष मेहनत की है, उसी के अनुरूप दुबारा मेहनत करनी होगी। उन्होंने कहा कि कंटेनमेंट जोन पर विशेष ध्यान दिया जाये। सख्ती के साथ-साथ सद्व्यवहार हो तथा जो टीमें बनाई गई है, उनके साथ एनसीसी, स्काउट इत्यादि का सहयोग लिया जाये। आमजन को बताया जाये कि बिना मास्क के बाहर न निकलें, भीड़ वाले स्थान पर न जायें, एक-दूसरे से दूरी बनाकर रखें, तभी जाकर प्रदेश में माहौल बनेगा।
पड़ोसी राज्य से आने वाले नागरिकों के कच्चे रास्तों पर भी नजर रखी जायेः जिला कलक्टर
जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन ने कहा कि श्रीगंगानगर जिले में पतली व साधुवाली में चेक पोस्ट संचालित है, जहां पर अन्य राज्यों से आने वाले नागरिकों पर नजर रखी जा रही है तथा आरटीपीसीआर टेस्ट नेगेटिव होने पर ही प्रवेश दिया जा रहा है। जिन नागरिकों के पास आरटीपीसीआर रिपोर्ट नहीं होती है, उनका टेस्ट लिया जाकर 14 दिन का होम क्वारेंटीन की सलाह दी जा रही है। जिला कलक्टर ने पुलिस व चिकित्सा विभाग को निर्देशित किया है कि पंजाब राज्य से लगती सीमा में जो कच्चे रास्ते है, वहां पर भी नाके लगाये जाये तथा आयुर्वेद चिकित्सकों की ड्यूटियां लगाई जाये। चेक पोस्ट पर अब तक 1 हजार 42 नमूने लिये गये है। जिला कलक्टर ने निर्देश दिये है कि चेक पोस्ट पर थर्मल स्कैनर सहित सभी तरह की व्यवस्था हों।
जिला कलक्टर ने कहा कि कोविड-19 महामारी को रोकने के लिये गतिविधियों को बढ़ाया जाये। आमजन को समझाया जाये कि बिना मास्क के बाहर न निकलें। अगर कोई नागरिक गाईडलाइन की अवहे्लना करता है तो जुर्माना लगाया जाये। वाणिज्यिक संस्थान भी एडवाईजरी की पालना करे अन्यथा ऐसी संस्थाओं के विरूद्ध भी कार्यवाही होगी। जिला कलक्टर ने कहा कि पुलिस विभाग कंटेनमेंट जोन की कड़ाई से पालना सुनिश्चित करवाये। चिकित्सा अधिकारी यह सुनिश्चित करेंगे कि कोविड जांच रिपोर्ट में संबंधित थाने का नाम भी इन्द्राज हो, जिससे क्षेत्रा बांटने में किसी तरह की असुविधा न हो।
जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन ने कहा कि चेक पोस्टों के अलावा रेलवे स्टेशन व बस अड्डों पर भी निगरानी बढ़ाई जाये तथा जो नागरिक बाहरी राज्यों से आ रहे है, उनकी आरटीपीसीआर रिपोर्ट देखी जाये तथा उन्हें आवश्यक सलाह दी जाये। जिला कलक्टर ने जिले में कोविड डेडीकेटिड चिकित्सालयों के बारे में जानकारी ली। सीएमएचओ ने बताया कि 34 वेंटिलेटर डेडीकेटिड है तथा जिले में 60 वेंटिलेटर वर्तमान में संचालित है।
वीसी में चिकित्सा विशेषज्ञों ने बताया कि कोरोना जिस गति से बढ़ रहा है, यह एक भयावह स्थिति है। अगर यहीं गति रही तो आने वाले दिनों में की गई तैयारी तथा संसाधन कम पड़ जायेंगे। उन्होंने कहा है कि कोरोना से जीतने की लड़ाई चिकित्सालयों में नहीं बल्कि आमजनता के साथ मिलकर उनके सहयोग से लड़ी जायेगी। जिला कलक्टर ने कहा कि जिला स्तर पर नियंत्राण कक्ष को प्रभावी रखा जाये।
वीसी में अतिरिक्त जिला कलक्टर प्रशासन श्री भवानी सिंह पंवार, सीएमएचओ डाॅ.गिरधारी लाल, पीएमओ डाॅ. बलदेव सिंह चैहान, आरसीएचओ डाॅ. एच.एस.बराड़ उपस्थित थे। (फोटो सहित)
जिला कलक्टर की आमजन से अपील
अप्रोप्रीएट बिहेवियर की हो पालना
जिला कलक्टर श्री जाकिर हुसैन ने आमजन से अनुरोध किया है कि कोविड-19 की दूसरी लहर बहुत ही भयावह व खतरनाक है। दूसरी लहर के बढ़ने की गति भी बहुत तेज है। इससे बचने के लिये सरकार द्वारा जो एडवाईजरी जारी की गई है तथा इसके लिये जो अप्रोप्रीएट बिहेवियर है, की पालना की जायें तथा सरकार द्वारा जारी प्रोटोकाॅल निर्धारित किया गया है, की किसी भी सूरत में अवह्ेलना न हो तभी जाकर इस महामारी से बचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि टीकाकरण के साथ-साथ जनजागरण व प्रोटोकाॅल की पालना नितांत आवश्यक है।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे