Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India ट्रेन पंक्चुअलिटी के मामले में उपरे फिर से ऑल इंडिया टॉपर - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Thursday, 10 February 2022

ट्रेन पंक्चुअलिटी के मामले में उपरे फिर से ऑल इंडिया टॉपर

 ट्रेन पंक्चुअलिटी के मामले में उपरे फिर से ऑल इंडिया टॉपर


’वित्तीय वर्ष में जनवरी माह तक रिकार्ड 23.78 मिलियन टन माल लदान किया’
श्रीगंगानगर, । महाप्रबंधक-उत्तर पश्चिम रेलवे श्री विजय शर्मा के दिशानिर्देशा अनुसार रेल संचालन पर विषेष ध्यान केन्द्रित किया गया है ताकि यात्री और माल उपभोक्ताओं को अधिकाधिक सुविधा प्रदान की जा सकें।
उत्तर पश्चिम रेलवे के मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी कैप्टन शशि किरण के अनुसार श्री विजय शर्मा के प्रयासों के फलस्वरूप यात्री ट्रेनों के संचालन पर उत्तर पश्चिम रेलवे पर विशेष ध्यान केन्द्रित किया गया है। इस वर्ष जनवरी माह तक 98.36 प्रतिशत के समयपालन को प्राप्त कर सम्पूर्ण भारतीय रेलवे पर प्रथम स्थान पर है। उत्तर पश्चिम रेलवे विगत दो वर्ष से लगातार यात्री गाड़ियों की समय पालन में सम्पूर्ण भारतीय रेलवे पर अग्रणी बना हुआ है।
देश के प्रत्येक भाग में आवश्यक सामग्री की निर्बाध आपूर्ति हो इसके लिये रेलवे द्वारा विशेष प्रयास किये जा रहे हैं। वर्तमान में माल लदान में अभिनव प्रयोग किये जा रहे हैं, जिसके फलस्वरूप इण्डस्ट्रीयल वाटर, पुट्टी, प्याज, किन्नू एवं चाईना क्ले आदि के नवीन मदों का लदान प्रारम्भ किया गया है। उत्तर पश्चिम रेलवे पर इस वर्ष जनवरी माह तक 23.78 मिलियन टन माल लदान किया गया, जो कि गत वर्ष की इसी अवधि की 17.21 मिलियन टन से 38.2 प्रतिशत अधिक है। उल्लेखनीय है कि रेलवे बोर्ड द्वारा उत्तर पश्चिम रेलवे को जनवरी माह तक 22.70 मिलियन टन लदान का लक्ष्य दिया गया था। उत्तर पश्चिम रेलवे ने लक्ष्य से 4.8 प्रतिशत अधिक माल लदान किया है। लदान की वृद्धि दर में समस्त भारतीय रेलवे पर दूसरे स्थान पर है।
उत्तर पश्चिम रेलवे पर 1729 वैगन प्रतिदिन लोडिंग के लक्ष्यों के मुकाबले प्रतिदिन 1868 वैगन प्रतिदिन माल लदान किया गया है, साथ ही जनवरी माह तक माल लदान से प्राप्त आय 2728 करोड़ विगत वर्ष की इसी अवधि में प्राप्त आय 1954 करोड़ से 39.6 प्रतिशत अधिक है। इस अवधि में माल गाडियों की औसत गति 46.15 कि.मी. रही है।
श्री विजय शर्मा महाप्रबंधक-उत्तर पश्चिम रेलवे के निर्देशन में उत्तर पश्चिम रेलवे ने यात्राी तथा माल परिवहन संचालन में सम्पूर्ण भारतीय रेलवे पर अलग पहचान बनाई है तथा नई ऊंचाईयों की ओर अग्रसर है।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे