Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India प्राकृतिक और सांस्कृतिक विशेषताओं से युक्त होगा गंगानगर का इको टूरिज्म प्लान - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Thursday, 10 March 2022

प्राकृतिक और सांस्कृतिक विशेषताओं से युक्त होगा गंगानगर का इको टूरिज्म प्लान

 प्राकृतिक और सांस्कृतिक विशेषताओं से युक्त होगा गंगानगर का इको टूरिज्म प्लान

.राजस्थान इको टूरिज्म पॉलिसी-2021 की पालना में जिला स्तरीय बैठक आयोजित
श्रीगंगानगर,। राजस्थान इको टूरिज्म पॉलिसी-2021 की अनुपालना में जिला स्तरीय बैठक गुरुवार को कलक्ट्रेट सभागार में हुई। बैठक की अध्यक्षता करते हुए अतिरिक्त जिला कलक्टर सतर्कता श्रीमती कमला अलारिया ने जिले के इको टूरिज्म प्लान में प्राकृतिक और सांस्कृतिक विशेषताओं के समावेश की आवश्यकता जताई।
जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री मोहम्मद जुनैद ने बैठक में राजस्थान इको टूरिज्म पॉलिसी के मापदंडों पर आधारित गंगानगर के सभी महत्वपूर्ण स्थानों को इको टूरिज्म प्लान में शामिल करने का सुझाव दिया।
उप वन संरक्षक श्री आशुतोष ओझा ने अवगत करवाया कि राजस्थान इको टूरिज्म पॉलिसी- 2021 की अनुपालना में जिला स्तरीय समिति बनाई गई है। इसमें जिला परिषद, टूरिज्म, ट्राइबल एरिया, म्यूजियम, आर्कियोलॉजी, शिक्षा, पीडब्ल्यूडी और सिंचाई विभाग के अधिकारियों को शामिल करते हुए गंगानगर के इको टूरिज्म प्लान पर चर्चा की गई। प्लान में जिले की प्राकृतिक और सांस्कृतिक विशेषता वाली जगहों को शामिल करते हुए उनके समुचित संरक्षण पर गहनतापूर्वक विचार-विमर्श किया गया।
श्री ओझा ने बताया कि इको-टूरिज्म प्लान की सबसे बड़ी उपलब्धि वन्य जीव संरक्षण और पर्यटन कार्यों में स्थानीय निवासियों की भागीदारी को बढ़ाना है। इसके माध्यम से स्थानीय समुदायों को पर्यावरण संरक्षण और विकास कार्यों के साथ भी जोड़ा जाएगा ताकि उनके लिए व्यवसाय के नए अवसर भी सृजित हो सकें। सभी विभागों से चर्चा के पश्चात जिले के इको टूरिज्म प्लान को अनुमोदन के लिए राज्य सरकार के पास भिजवाया जाएगा।
उन्होंने बताया कि राजस्थान फॉरेस्ट डेवलपमेंट कॉरपोरेशन द्वारा स्थानीय समुदायों के सहयोग से पर्यटन इकाइयों का संचालन भी किया जाएगा। इससे होने वाली आय का अधिकांश हिस्सा स्थानीय संचालकों को प्राप्त होगा। साथ ही इससे प्राप्त होने वाली आय को क्षेत्रा में सामाजिक विकास और प्रशिक्षण कार्य में प्रयुक्त किया जाना प्रस्तावित है।
इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी श्री हंसराज यादव सहित अन्य विभागों के अधिकारी भी मौजूद रहे

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे