Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India सीमांत रक्षक परिवार को बड़ा झटका,प्रधान सम्पादक के पिता अकाल मृत्यु को प्यारे,नगरपालिका के सामने आमरण अनशन और आत्मदाह की कही बात - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Monday, 17 April 2017

सीमांत रक्षक परिवार को बड़ा झटका,प्रधान सम्पादक के पिता अकाल मृत्यु को प्यारे,नगरपालिका के सामने आमरण अनशन और आत्मदाह की कही बात

मनीराम मेघवाल (फ़ाइल फोटो)
कुलदीप शर्मा की रिपोर्ट
हनुमानगढ़/श्रीगंगानगर ।  आज श्रीगंगानगर से प्रकाशित दैनिक समाचार पत्र के सम्पादक सत्यपाल मेघवाल के पिता मनीराम मेघवाल की आवारा गौवंश के चपेट में आने से दर्दनाक मृत्यु हो गई । इस अचानक हुई घटना कर्म ने सूरतगढ़ शहर के लोगो को स्तम्भ कर दिया तो सीमांत रक्षक परिवार को एक बड़ा दुःख देकर चला गया । वहीं जानकारों की माने तो अचानक माहोल को गम में बदल दिया तो शहर में भी लोगो तक इन बातो का पहुंचना शुरू हो गया । सीमांत रक्षक परिवार के साथ अचानक घटी इस घटना के कारण सभी शहर के लोगो का उनके घर पर आने-जाने का भी दौर शुरू हो गया हैं ।

आवारा गोधो ने लड़ते-लड़ते मारी टक्कर

समय सुबह के करीबन 9 बजके 30 मिनट हुआ था तो मृतक मनीराम मेघवाल अपने घर के अंदर दरवाजे के पास खड़े थे तो अचानक दो गोधे लड़ते-लड़ते उनके घर में घुस आये और मृतक को अपने चपेट में ले लिया । वहीं बताया जा रहा हैं की गोधो ने मृतक को उठा-उठा का पटका जिसके कारण उनके सर से काफी खून बह गया था और रीड की हड्डी भी टूट गयी । सर में ज्यादा चोट होने की वजह से उनको ब्रेन डेड हो गया । जिसके कारण उनकी मृत्यु हो गयी ।

पहले सूरतगढ़ तो फिर गंगानगर ले जाते रास्ते में हुई मौत

अचानक हुए इस दर्दनाक घटनाक्रम के बाद मृतक के परिजनों ने आनन-फानन में सूरतगढ़ के अपेक्ष अस्पताल में मनीराम मेघवाल को भर्ती करवाया गया लेकिन सर में चोट अधिक लगने ,ब्रेन फ़ैल होने पर और रीड की हड्डी टूटने के अलावा ज्यादा स्थिति खराब होने की वजह से अस्पताल से उनको श्रीगंगानगर के लिए रेफर कर दिया गया जिसके बाद खून ज्यादा बहने के कारण उनकी मृत्यु गंगानगर पहुँचने से पहले ही हो गयी । इस दुःखद घटना क्रम से सभी स्तम्भ हैं ।

नगरपालिका सूरतगढ़ के सामने होगा आमरण अनशन और आत्मदाह

वहीं सीमांत रक्षक परिवार को इस दुःख की घड़ी में जितना धीरज बंधाया जाए शायद कम ही होगा ।लेकिन वहीं हमारी बात हुई सीमांत रक्षक समाचार पत्र के प्रधान सम्पादक के पुत्र योगेश मेघवाल से तो उन्होंने बताया की दादा जी की मृत्यु के जिम्मेदार नगरपालिका अधिकारी हैं । उनकी वजह से मेरे दादा जी आज आकाल मृत्यु को प्राप्त हुए हैं मेरे दादाजी खड़े थे तो आवारा गौवंश ने उनको टक्कर मार घम्भीर घायल कर दिया जिससे उनकी मृत्यु हुई हैं । योगेश मेघवाल ने रिपोर्ट एक्सक्लूसिव डॉट कॉम को बताया की वो आज से सातवे दिन बाद दादा जी की रस्म अदा करने के पश्चात मैं नगरपालिका सूरतगढ़ के आगे आमरण अनशन पर बेठुगा साथ ही अगर नगरपालिका अधिकारियो पर उचित कार्रवाई और कानूनी धाराओं में मामला दर्ज़ नहीं किया गया तो आत्मदाह भी करने से पीछे नहीं हटूंगा 

नगरपालिका क्षेत्र में खुलेआम घूमती हैं मौते

जी हाँ बिलकुल आपने सही सूना हैं सूरतगढ़ शहर में आवारा पशुओ की अगर हम बात करे तो सरेआम शहर में घुमते हैं और काफी बार शहर में आवारा पशुओ ने बीच बाज़ार में आतंक भी मचाया हैं वहीं जानकारों की माने तो आवारा पशुओ ने आमजन का जीना भी दुर्भर कर दिया हैं तो वहीं छोटे-छोटे बच्चों का भी घर से निकलना मुश्किल कर दिया हैं आज की इस घटना ने साबित कर दिया की शहर के अंदर ही नहीं वर्ण शहर के हर कोने में चलती फिरती खूंखार मौते घुमती हैं लेकिन नगरपालिका को शायद नींद में रहने की पुरानी आदत हैं । नगरपालिका में शायद पहले भी एक मामला आवारा गौवंश को लेकर किया गया था जिसमे भी कार्रवाई हुई या नहीं ये भी अभी राज़ ही हैं । 

आये दिन मीडिया करती शहर की समस्याएं उजागर लेकिन नगरपालिका गहरी नींद में सोयी

सूरतगढ़ नगरपालिका अपनी कार्यप्रणाली को लेकर हमेशा ही चर्चा में रही हैं वहीं आये दिन तमाम मीडिया और जागरूक आमजन द्वारा नगरपालिका को उसकी लापरवाही दिखाई जाती हैं लेकिन होता वही हैं ढाक के तीन पात वाली बात । अब फिर एक मामले ने नगरपालिका की पोल खोल के रख दी हैं तो वहीं आज उनकी लापरवाही की भेंट एक व्यक्ति चढ़ गया हैं ।

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे