Report Exclusive, Lok Sabha Elections 2019: Latest News, Photos, and Videos on India General Elections, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India Hanumangarh - सवा लाख की रिश्वत मांगने वाले पटवारी पर एसीबी में केस दर्ज - Report Exclusive

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Friday, 15 March 2019

Hanumangarh - सवा लाख की रिश्वत मांगने वाले पटवारी पर एसीबी में केस दर्ज


हनुमानगढ़। हनुमानगढ़ में भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) को एक पटवारी के विरुद्ध रिश्वत मांगने के दर्ज किये गये प्रकरण की जांच मिली है। इस पटवारी ने एक किसान की जमीन का इंतकाल दर्ज करने की एवज में सवा लाख रुपये की रिश्वत मांगी थी। एसीबी ने पटवारी को ट्रेप करने के लिए जाल बिछाया, लेकिन वह पकड़ में नहीं आया था। एसीबी के सूत्रों के अनुसार इस पटवारी के विरुद्ध जयपुर स्थित मुख्यालय में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत प्रकरण दर्ज होकर जांच के लिए अब ब्यूरो की हनुमानगढ़ चौकी में आया है। 


प्रकरण के अनुसार हनुमानगढ़ जिले में भादरा थाना क्षेत्र के गांव ढाकां निवासी रामनारायण पुत्र शीशपाल ने 24 सितम्बर 2018 को ब्यूरो को शिकायत की थी। शिकायतकर्ता ने बताया कि ढाकां गांव में उसकी 16 बिस्वा भूमि है, जिसका उसने कृषि शिक्षण संस्थान के लिए रूपांतरण करवाया है। राजस्व रिकॉर्ड में इसका इंतकाल दर्ज करवाने के लिए वह जब पटवारी के पास गया, तो हलका पटवारी मुकेश कुमार ने कहा कि कागजों में खसरा नम्बर गलत है। यदि इंतकाल दर्ज करवाना है तो अपने स्तर पर यह कार्रवाई कर जमाबंदी की नकल वह दे देगा। इस काम के बदले पटवारी ने एक लाख 25 हजार रुपये की रिश्वत मांगी।


 रिश्वत न देने पर उसने इंतकाल दर्ज करने से मना कर दिया। यह शिकायत मिलने पर एसीबी चौकी के प्रभारी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गणेशनाथ सिद्ध ने 25 सितम्बर 2018 को इस शिकायत का गोपनीय रूप से सत्यापन करवाया। सत्यापन में यह शिकायत सही पाई गई। तत्पश्चात् ट्रेप करने की कार्यवाही की गई, लेकिन एनवक्त पर पटवारी को शक हो गया। उसने रिश्वत के रुपये नहीं पकड़े। ब्यूरो ने इस पूरे मामले की रिपोर्ट बनाकर अपने मुख्यालय को भेज दी थी। वहां अब पटवारी के विरुद्ध भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धारा 7 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है। 

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे