Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India माकपा ने गाँवों-शहरों-कस्बो में बिजली बिल माफ़ी को लेकर किया प्रदर्शन,जलाई बिल की प्रतिया देखे तस्वीरों में - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Saturday, 13 June 2020

माकपा ने गाँवों-शहरों-कस्बो में बिजली बिल माफ़ी को लेकर किया प्रदर्शन,जलाई बिल की प्रतिया देखे तस्वीरों में


हनुमानगढ़। भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी द्वारा हनुमानगढ़ जंक्शन में अलग-अलग जगहों पर बिजली के बिल 6 महीने के माफ करने की मांग को लेकर सभाएं की व बिजली के बिल जलाए गए। शुक्रवार को नवा बाईपास के पास व धानमंडी हनुमानगढ़ जं में भारत की कम्युनिस्ट पार्टी मार्क्सवादी के कार्यकर्ताओं व सीटू कार्यकर्ताओं द्वारा एक आम सभा का आयोजन किया गया। 

आमसभा को संबोधित करते हुए कामरेड रामेश्वर वर्मा ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान तमाम तरह की आर्थिक गतिविधियां व्यापार दुकाने बंद रही और उसके बावजूद एवरेज बिल भेजे जा रहे हैं। लॉकडाउन के चलते जहां मजदूर आम आदमी किसान छोटा व्यापारी सभी परेशान है आर्थिक रूप से टूट चुके हैं ऐसे दौर में केंद्र व राज्य सरकार की जिम्मेदारी बनती है कि वह आम जनता को राहत देते हुए बिजली के 6 महीने के बिल माफ करें। उन्होंने कहा कि अगर समय रहते हुए सरकार नहीं जागती है और आमजन को राहत देने का काम नही करती है तो आन्दोलन उग्र आंदोलन किया जाएगा। 

सभा में माकपा जिला सचिव रघुवीर सिंह वर्मा ने कहा कि कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी आम आदमी की दुख तकलीफ से मतलब नहीं है उन्हें तो वोट की राजनीति करनी है इसलिए दोनों पार्टियों के राष्ट्रीय नेता सरकार बनाने और रैलियां करने में वोट मांगने में व्यस्त हैं आम आदमी मर रहा है उसकी उन्हें चिंता नहीं है, ऐसे गैर जिम्मेदार लोग आज राज सत्ता में बैठे हैं इसलिए हमें अपनी एकता को मजबूत करते हुए राज्य सरकार केंद्र सरकार की जनविरोधी नीतियों का व्यापक विरोध करते हुए बिजली के बढ़े हुए दाम वापस लेने व बिजली की बिल माफ करने के आंदोलन को और तेज करना होगा। सभा में एडवोकेट लालचंद वर्मा, मुकद्दर अली, आमिर खान, वेद प्रकाश, अमित कुमार, वारिस अली, सुरेश कुमार, तरसेम सिंह, वारीस अली, इकबाल खान, सहीराम आदि उपस्थित थे। अगर सरकार अभी भी आमजन की परेशानियों को नजरअंदाज करती है और बिजली बिल माफ नही करती है तो 26 जून को मुख्यमंत्री व उर्जा मंत्री का पुतला फुंका जाएगा।

इसी तरह टाउन में जन शक्ति भवन, टिब्बी रोड़, भद्रकाली रोड़, वार्ड 45 बिहारी बस्ती, कैंटर युनियन रावतसर रोड़ व अन्य जगहों पर  भारत की कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) (सीपीआईएम) माकपा कार्यकत्र्ताओं द्वारा 6 माह तक के बिजली बिलों को माफ करने की मांग को लेकर प्रदर्शन कर विरोध स्वरूप बिजली के बिल जलाकर रोष व्यक्त किया। वक्ताओं ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि लॉकडाउन में करोना वायरस के चलते पिछले 3 माह से तमाम आर्थिक गतिविधियां बंद पड़ी है, आम जनता के सामने रोजगार की बड़ी समस्या है ऐसे मौके पर सरकार को आम जनता के 4 माह तक बिजली के बिल माफ करने चाहिए, केंद्र सरकार ने 90 हजार करोड रुपए बिजली कंपनियों को सहायता के रूप में दिए हैं । उसका लाभ आम जनता को भी मिले क्योंकि कारोना के चलते आम जनता गरीब, मजदूर बिजली के बिल भरने में असमर्थ है । इस मौके पर माकपा जिला सचिव मंडल के कामरेड बहादुर सिंह चौहान, माकपा जिला कमेटी के नेता कामरेड आत्मा सिंह, कामरेड मलकीत सिंह, कामरेड जगतार सिंह, कामरेड बसंत सिंह, कामरेड अरविंद सिंह, कामरेड गुरदेव राम, कामरेड मेजर सिंह व अन्य माकपा कार्यकर्ता मौजूद थे, माकपा ने कहा कि अगर बिजली के बिल माफ नहीं किए गए तो पूरे राज्य भर में आंदोलन को मजबूत कर बिजली के बिलों को माफ करवाया जाएगा ।

इसी तहर जंक्शन के सैक्टर 12 में अखिल भारतीय जनवादी महिला समिति द्वारा बिजली के छह माह के बिजली के बिल माफ करने की मांग को लेकर जगह जगह पर बिजली के बिल जलाये गये। इसी के तहत महिला कार्यकत्र्ताओं द्वारा सैक्टर 12 में बिजली के बिल जलाकर विरोध दर्ज करवाया गया। महिला कार्यकत्र्ता सर्वजीत कौर ने बताया कि लॉकडाउन के चलते तीन माह तक सरकार के दिशा निर्देशानुसार हर व्यक्ति घरों में बंद था, जिसके चलते किसी ने कोई काम नही किया और लॉकडाउन में कुछ छुट मिलते ही बिजली विभाग द्वारा घरों में बिल भेज दिये और बिल न भरवाने पर बिजली कनैक्शन काटने की भी धमकी दी जा रही है। उन्होने बताया कि सरकार एक तरफ बिजली बिल माफ करने के खोखले वायदे कर रही है तो दुसरी और बिजली विभाग कनैक्शन काटने की धमकी दे रहा है। जिसके चलते मजबूरन आज यह प्रदर्शन किया जा रहा है। उन्होने बताया कि अगर जल्द ही आमजन के छह माह के बिजली के बिल माफ नही किये गये तो आन्दोलन उग्र किया जायेगा। इस मौके पर सर्वजीत कौर, परमजीत कौर, गुरजीत कौर,  संतोष, शांतो देवी, मुन्नी देवी, विध्या, जेठी बाई व अन्य महिलाएं मौजूद थी।

छह माह के बिजली के बिल माफ करने की मांग काे लेकर डबलीराठान के मुख्य बाजार में माकपा द्वारा बिजली बिल जलाए गए व राज्य सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए रोष व्यक्त किया। सैकड़ों की संख्या में राज्य व केन्द्र सरकार से निराश ग्रामीणों ने प्रदर्शन में भाग लिया। सभा को संबोधित करते हुए कामरेड़ रामेश्वर वर्मा ने कहा कि लॉकडाउन के चलते लोगों की आर्थिक गतिविधियां बंद हो गई है तमाम तरह के काम धंधे बंद हो गए है जिसके कारण लोगों को बिजली के बिल भरना लोगों की आर्थिक परेशानी हो गई है। जिला सचिव रघुवीर वर्मा ने कहा कि भाजपाव कांग्रेस दोनेां सरकारे एक सिक्के के दो पहलु है इन्हे जनता की चिंता नही है। इस मौके पर वार्ड पंच धन्ना भगत, किसान सभा के हरिराम, मलकीत, गुरदेव, मोहनलाल, बूटा सिंह, महेन्द्र शर्मा, सहीराम, मदन, सारस्वत, शंकर टेलर, बलकरण सिंह, दीपक कुमार, धर्मपाल, आशाराम आदि मौजूद थे।

इसी के तहत दुधवाल वाली ढाणी, ग्राम पंचायत सहजीपुरा में भी कार्यकत्र्ताओं ने बिजली बिल की प्रतियां जलाकर 6 माह के बिजली बिल माफ करने की मांग को लेकर विराध प्रदर्शन किया। इस मौके पर कॉमरेड राजेन्द्र रंधावा,मोहित इंसा, पतराम,विनोद कुमार वर्मा, प्रल्हाद वर्मा,व महिलाओं सहित सैकड़ों लोगों ने प्रदर्शन में हिस्सा लिया । विरोध प्रदर्शन की श्रृंखला में चक एक एलजीडब्लयू में कामरेड मंगतू राम की अगुवाई में कार्यकत्र्ताओं ने बिजली बिलों को जलाकर विरोध दर्ज करवाया। इस मौके पर कामरेड पोकर राम, राजेश कामरेड, सोहन लाल ,लिखमा राम ,देवीलाल, रजिराम आदि मौजूद थे।

 गांव मटोरिया वाली ढाणी में बिजली के बिल माफ करने की मांग को लेकर बिजली के बिल जलाए गए इस अवसर पर रामप्रताप सुथार पप्पी बाजीगर राजेंद्र बाजीगर आदि उपस्थित थे

 22   NDR में बिजली बालों की प्रतियां जलाई =. मोहन लोहरा किरपा राम सिहमार, सुभाष सहारण, मदन वर्मा, मनिराम,ज्ञानी राम

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे