Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India प्रदेश में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता,साथिन, सहयोगिन, सहायिका ने एक साथ जताया विरोध - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Friday, 5 June 2020

प्रदेश में आंगनबाड़ी कार्यकर्ता,साथिन, सहयोगिन, सहायिका ने एक साथ जताया विरोध

 
हनुमानगढ़ में पांच सूत्री मांगो को लेकर सौंपा ज्ञापन 
हनुमानगढ़(GNS)।अखिल राजस्थान महिला एवं बाल विकास सयुंक्त कर्मचारी संघ एकीकृत के सदस्यो ने शुक्रवार प्रधानमंत्री के नाम का अपना पांच सूत्री मांग पत्र जिला कलक्टर को सौंपा। संगठन की जिला मंत्री सुखविंदर कौर ने बताया कि उक्त महिला कर्मचारियों को अन्य महिला कर्मचारियों की भांति 8 घण्टे एवं विषम परिस्थितियों  जैसे जनगणना, प्रसूता स्वास्थ्य जांच,घर घर सर्वे,कोरोना वरियर्स का कार्य दिन रात पूरी निष्ठा  व ततपरता से करने के बावजूद सरकार द्वारा पूर्ण वेतन न देकर शोषण किया जा रहा है। 

उन्होंने बताया कि सरकार द्वारा उक्त संवर्ग को न्यूनतम मजदूरी से भी कम जो नाम मात्र का मानदेय दिया जा रहा है वो ऊंठ के मुह में जीरे के समान है। उन्होंने बताया कि सरकार को अपनी ज्वलन्त समस्याओ व मांगो के प्रति बार बार अवगत करवाने के बावजूद कोई कार्यवाही न होने से संगठन सदस्याओं में सरकार के प्रति आक्रोश है और इसी आक्रोश के चलते संगठन की प्रदेश अध्यक्ष मधुबाला शर्मा के निर्देशानुसार आज समस्त प्रदेश के प्रत्येक जिला मुख्यालयों पर प्रधानमंत्री के नाम का ज्ञापन जिला कलक्टर को सौंप देशव्यापी विरोध व्यक्त किया जा रहा है। 

ज्ञापन में  आंगनबाड़ी कार्यकर्ता,सहायिका, साथिन व आशा सहयोगिन को स्थायी करने,केंद्र सरकार की भांति। केंद्रीय कर्मचारियों के समकक्ष वेतनमान 19900 व 18000 देने,कोरोना योद्धाओं को 50 लाख रुपए का बीमा कवर देने,पूर्व प्राथमिक शिक्षकों की नियुक्ति में अवसर प्रदान करने व वर्ष 2018 में केंद्र सरकार द्वारा की गई वेतन बढ़ोतरी लागू करते हुए एरियर का भुगतान करने की मांग की गई है। इस दौरान जिला मंत्री सुखविंदर कौर, हनुमानगढ़ तहसील अध्यक्ष निर्मला, तहसील मंत्री चंद्रकला, विमला, सुनीता आदि संगठन सदस्य मौजूद थे।

No comments:

Post a comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे