Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India सैंपलिंग के लिए ग्रामीण क्षेत्र पर रखें विशेष फोकस-मेहता - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Monday, 14 December 2020

सैंपलिंग के लिए ग्रामीण क्षेत्र पर रखें विशेष फोकस-मेहता

अन्य स्वास्थ्य सेवाएं भी रहे सुचारू

काविड 19 समीक्षा बैठक  में दिए निर्देश

बीकानेर,। जिला कलक्टर नमित मेहता ने कहा कि कोरोना संक्रमण रोकथाम के लिए  सभी सम्बंधित एंजेसियां ग्रामीण क्षेत्र में विशेष फोकस करें। ग्रामीण क्षेत्र सहित उन क्षेत्रांे में जहां अधिक संख्या में  मरीज मिल रहे हैं वहां सैंपल संख्या बढ़ाई जाए।

जिला कलक्टर ने सोमवार को कलेक्ट्रेट सभागार में कोविड समीक्षा बैठक में ये निर्देश दिए। मेहता ने कहा कि वर्तमान में जिले में 20 के आसपास पाॅजिटीव आ रहे हैं। शादियों के सीजन के बीच पुलिस, प्रशासन और मेडिकल कार्मिकों के समन्वित प्रयासों से यह संभव हो सका है। आने वाले समय में भी स्थिति नियंत्रण में रहे इसके लिए सैंपल संख्या अधिक से अधिक हो। जहां से भी पाॅजिटीव मरीज मिल रहे हैं वहां ज्यादा से ज्यादा सैंपल लिए जाएं और स्क्रीनिंग करते हुए पाॅजिटीव को आइसोलेट करें। मेहता ने कहा कि सर्दी के मौसम को देखते हुए खांसी, जुकाम वाले मरीजों की भी सैंपलिंग हो। जिला कलक्टर ने कहा कि बीकानेर में वर्तमान में प्रदेशभर में न्यूनतम एक्टिव केस और पाॅजिटिविटी दर है। इसे बनाए रखें।


समस्त स्वास्थ्य सेवाएं हो सामान्य

जिला कलक्टर ने कहा कि समस्त स्वास्थ्य सेवाएं सामान्य रूप से बहाल रहें। कम जरूरी सर्जरी जो रूकी थीं उन्हें तुरंत प्रभाव से बहाल करें। वर्तमान में कौन कौन सी सेवाएं चालू कर दी गई हैं इसकी रिपोर्ट भेंजे।  आमजन को सामान्य बीमारियों के इलाज में किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।

मेहता ने कहा कि वेक्सीन भंडारण के लिए पहले से समस्त तैयारियां कर लें। उन्होंने इस सम्बंध में तैयारी के लिए टीम गठित करने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने शादियों के सीजन के दौरान भी कोरोना संक्रमण नियंत्रित रखने के लिए एरिया मजिस्ट्रेट और पुलिस की सराहना की।

जिला कलेक्टर ने कहा कि जब तक वैक्सीन ना आए, हम सभी को मुस्तैद रहना होगा तथा पॉजिटिव की संख्या कम आने के बावजूद भविष्य की स्थितियों के लिए स्वयं को तैयार रखना होगा। उन्होंने कहा कि यदि मरीजों की संख्या बढ़ती हुई दिखे तो माइक्रो कंटेनमेंट जोन भी उसी अनुपात में बढ़ाएं। पुलिस नाइट कर्फ्यू के दौरान सख्ती रखें और रात 8 बजे के बाद यदि अनावश्यक रूप से कोई व्यक्ति घूमता हुआ पाया जाए तो चालान काटें।  

बैठक में अतिरिक्त जिला कलेक्टर (प्रशासन) ए एच गौरी, अतिरिक्त जिला कलेक्टर (शहर)  सुनीता चैधरी , प्राचार्य मेडिकल कॉलेज डॉ एसएस राठौड़, पीबीएम अस्पताल अधीक्षक डॉ परमेंद्र सिरोही, सीएमएचओ डॉ बीएल मीना सहित संबंधित एरिया मजिस्ट्रेट और अन्य अधिकारी उपस्थित थे।




No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे