Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India श्रीगंगानगर मास्टर प्लान वर्ष 2017-2035 आमजन आपत्ति व सुझााव दे सकेंगे - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 8 February 2022

श्रीगंगानगर मास्टर प्लान वर्ष 2017-2035 आमजन आपत्ति व सुझााव दे सकेंगे

 श्रीगंगानगर मास्टर प्लान वर्ष 2017-2035

आमजन आपत्ति व सुझााव दे सकेंगे
श्रीगंगानगर,। नगर सुधार न्यास (जोनल डवलपमेन्ट प्लान) नियम-2021 के नियम-3 के अन्तर्गत आमजन को जानकारी दी कि श्रीगंगानगर शहर के अधिसूचित नगरीय क्षेत्र सीमा में नगर नियोजन विभाग, राजस्थान जयपुर द्वारा श्रीगंगानगर मास्टर प्लान 2017-2035 में प्रस्तावित जोन अनुसार जोन ‘‘ए’’ उत्तरी योजना क्षेत्र, जोन ‘‘बी’’ पुराना शहर योजना क्षेत्र, जोन ‘‘सी’’ पश्चिमी योजना क्षेा, जोन ‘‘डी’’ दक्षिण-पष्चिमी योजना क्षेत्र, जोन ‘‘ई’’ पूर्वी योजना क्षेत्र, जोन ‘‘एफ’’ दक्षिण-पूर्वी योजना क्षेत्र 6 जोन में विभाजित किया गया है। श्रीगंगानगर मास्टर प्लान वर्ष 2017- 2035 के नगरीय क्षेत्र में प्रारूप जोनल डवलपमेन्ट प्लान, जोन सं. ‘‘ए’’ से ‘‘एफ’’ तक के समस्त 6 जोन की बाहरी सीमाऐं इस प्रकार रहेगी।
जोन ‘‘ए’’ से ‘‘एफ’’ की बाहरी सीमाऐं
राजस्व ग्राम चक 1 डी छोटी के पूर्वी-उत्तरी छोर से लिंक चैनल के साथ-साथ पश्चिम की ओर चलते हुए चक 1 जैड, 3 वाई, 4 जैड़, 2 बी छोटी से दक्षिण की तरफ चलते हुए चक 1 बी छोटी, 9 जैड़ की सीमा के साथ-साथ चक 10 जैड़, 6 ए छोटी, 7 ए छोटी, 4 एफ, 3 एफ छोटी, 2 एफ छोटी, 1 जी छोटी, 5 एमएल, पतिखीयां प्रथम, व पतिखीया द्वितीय, श्यामसिंह वाला, 13 एलएनपी प्रथम व द्वितीय, 12 एलएनपी, 6 एलएनपी, 4 एलएनपी, 1 एमएल, 2 डी छोटी के बाहरी सीमा के अन्दर का समस्त 52 राजस्व ग्रामों का क्षेत्र शामिल है।
श्रीगंगानगर शहर के अधिसूचित नगरीय क्षेत्र सीमा के जोन संख्या ‘‘ए’’ से ‘‘एफ’’ का प्रारूप जोनल डवलपमेन्ट प्लान के संबंध में किसी भी हितबद्ध व्यक्ति, संस्था को आपत्ति, सुझाव प्रस्तुत करना हो तो वे अपने आपत्ति, सुझाव 8 फरवरी 2022 से 21 दिवस की कालावधि में कार्यालय नगर विकास न्यास, श्रीगंगानगर में किसी भी कार्य दिवस में प्रस्तुत कर सकते है। इस संबंध में निश्चित समयावधि के पश्चात प्राप्त होने वाले आपत्ति, सुझाव पर विचार नहीं किया जावेगा। निजी भूमि धारकों से जोन संख्या ‘‘ए’’ से ‘‘एफ’’ में सुविधाओं के दृष्टिगत निजी स्कूल, कॉलेज, अस्पताल, नर्सिग होम इत्यादि हेतु प्रस्ताव भी आमन्त्रित किये जाते है, जिनका परीक्षण उपरांत नियमानुसार न्यास स्तर पर निर्णय लिया जावेगा। श्रीगंगानगर मास्टर प्लान वर्ष 2017-2035 के नगरीय क्षेत्रा के जोन संख्या ‘‘ए’’ से ‘‘एफ’’ का प्रारूप जोनल डवलपमेन्ट प्लान का उक्त समयावधि में किसी भी कार्य दिवस में कार्यालय समय में कार्यालय नगर विकास न्यास श्रीगंगानगर में अवलोकन किया जा सकता है।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे