Report Exclusive, Corona Update: Latest News, Photos, and Videos on India corona update, Hindi News, Latest News in Hindi, Breaking News, हिन्दी समाचार -India ऑपरेशन निगहबानी के तहत सीआईडी श्रीगंगानगर की विशेष कार्यवाही, आरोपी समेजा थाना क्षेत्र के 6 एलपीएम का निवासी - Report Exclusive expr:class='data:blog.pageType'>

Report Exclusive - हर खबर में कुछ खास

Breaking

Tuesday, 8 February 2022

ऑपरेशन निगहबानी के तहत सीआईडी श्रीगंगानगर की विशेष कार्यवाही, आरोपी समेजा थाना क्षेत्र के 6 एलपीएम का निवासी

 ऑपरेशन निगहबानी के तहत सीआईडी श्रीगंगानगर की विशेष कार्यवाही

श्रीगंगानगर। पाक आईएसआई एवं पाक इंटेलिजेंस ऑपरेटिव्ज (पीआईओ) द्वारा छदम नाम से फेसबुक आईडी बनाकर व छदम फ़ोन कॉल करके भारत में संवेदनशील सस्थानों (छावनी क्षेत्र) के आस-पास निवास करने वाले भारतीय नागरिकों द्वारा ऐसे संस्थानों में कार्यरत कार्मिकों से सोशल मीडिया के माध्यम से सम्पर्क करके सैन्य एवं सामरिक महत्व की सूचनाएं प्राप्त करने का निरंतर प्रयास किया जाता रहा है। जिसके परिणामस्वरूप उक्त लोगों के हनी ट्रेप में फंसकर व आस्था परिवर्तन करवाने में सफल होने के उपरान्त सूचना साझा करने के काफी प्रकरण समय-समय पर देश के विभिन्न क्षेत्रों में दर्ज हुए है। इस प्रकार की घटनाओं पर अंकुश लगाने हेतु श्री उमेेश मिश्रा, महानिदेशक पुलिस, इन्टेलीजैंस राज0 जयपुर द्वारा दिये गये निर्देशों के तहत जिला श्रीगंगानगर के संवेदनशील संस्थानों के आस-पास एवं भारत-पाक सीमा क्षेत्र में ऑपरेशन निगहबानी चलाया जा रहा हैं।
इसी ऑपरेशन के तहत शक्तिपाल पुत्र रिशीपाल जाति जाट निवासी चक 6 एलपीएम पुलिस थाना समेजा कोठी तहसील रायसिंहनगर जिला श्रीगंगानगर को सी0आई0डी0 (वि0शा0) श्रीगंगानगर की काउंटर इन्टेलिजेंस टीम द्वारा पूछताछ हेतु केन्द्रीय पूछताछ केन्द्र जयपुर ले जाया गया हैं। शक्तिपाल के संबंध में राज्य विशेष शाखा के तकनीकि सैल द्वारा पाक आईएसआई एवं पाक इंटेलिजेंस ऑपरेटिव्ज (पीआईओ) के सम्पर्क में होने की पुख्ता जानकारी प्राप्त हुई थी। जिस पर इस व्यक्ति पर जोन श्रीगंगानगर की स्थानीय टीम द्वारा पिछले कुछ समय से निगरानी रखी जा रही थी।
अब तक की जांच में पाया गया कि उक्त शक्तिपाल छदम रूप से अपने आपको अपने जानकारो व रिस्तेदारों में सैन्य कर्मी के रूप में प्रचारित किया करता था। इसके द्वारा अपने आपको सैनिक के रूप में स्थापित करने के लिए अवैध रूप से सैनिक परिधानों, बैज व बैल्ट इत्यादी का क्रय कर उपयोग किया गया तथा अपने परिचित सैन्य कर्मीयों के कैंटीन व पहचान कार्ड हथिया कर कूट रचना कर अपने नाम व फोटों से तैयार कर लिये। इसके अतिरिक्त सरकारी सैन्य पत्राचार प्रदर्शित करने के लिए इसके द्वारा विभिन्न सैनिक संस्थानों के नाम से मोहर व सील इत्यादी भी तैयार कर कूट रचित दस्तावेज बनाये गये।
शक्तिपाल द्वारा सैन्य कर्मी बन सोशल मीडिया (फेसबुक व व्हाट्स अप) का अकाउण्ट तैयार किया गया हैं। जिसके माध्यम से यह अलग-अलग तीन पीआईओ (पीआईओ) के सम्पर्क में था। इन पीआईओ द्वारा इससे सेना संबंधी महत्वपूर्ण सूचना चाहे जाने पर इसके द्वारा उन्हे सेना की वर्दी पहनी हुई फोटो, आईडीकार्ड, केन्टिनकार्ड व विभिन्न प्रशिक्षण में जाने सम्बन्धी दस्तावेज उक्त पीआईओ प्रोफाइल हेण्डलर के साथ साझा की गई हैं।
विभिन्न आसूचना एजेन्सियों द्वारा 07 फरवरी 2022 को शक्तिपाल से विशेष पुलिस थाना, जयपुर में हुई पूछताछ में इसके मोबाइल में भारतीय सेना के वाहनो, यूनिटों व अलग अलग स्थानों पर सेना के वाहनो व जवानों के फोटोग्राफ भी पाये गये हैं।
जिसके आधार पर उक्त शक्तिपाल पुत्र रिशीपाल जाति जाट निवासी चक 6 एलपीएम पुलिस थाना समेजा कोठी तहसील रायसिंहनगर जिला श्रीगंगानगर को पुलिस अभिरक्षा में लेकर कानूनी कार्यवाही करने हेतु प्रकरण पंजिबद्ध करवाया जा रहा है।

No comments:

Post a Comment

इस खबर को लेकर अपनी क्या प्रतिक्रिया हैं खुल कर लिखे ताकि पाठको को कुछ संदेश जाए । कृपया अपने शब्दों की गरिमा भी बनाये रखे ।

कमेंट करे